All News

महिला दिवस का क्या है महत्व? जाने भारत के कुछ सशक्त महिलाओं के बारे में जो है देश की पहचान।

अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस (IWD) 8 मार्च को पूरे विस्व भर में मनाया जाता है। यह दिन महिलाओं और पुरुषों के लिए भी बहुत महत्व रखता है।हमसे जुड़ी जितनी भी महिलाएं या स्त्री है जैसे की हमारी मां हो दादी हो बीबी हो या तो बेटी हो, इनकी अहमियत हमारी जिंदगी में कितनी है ये दर्शाने के लिए है ये दिन।        हालंकी अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस की सुरवात UNITED NATIONS(UN) द्वारा 1977 में हुई थी जिसका उदेश था महिलाओं के प्रति लैंगिक समानता फैलाना ,महिलाओं के प्रति अत्याचार और हिंसा पर रोक लगाना,और महिला सशक्तिकरण।यह दन महिलाओं की सांस्कृतिक,राजनीतिक,सामाजिक आर्थिक उपलब्धियों को भी दर्शाता है।आज महिलाएं हर क्षेस्त्र में आगे आ रही है चाहे वो डॉक्टर हो या इंजीनियर या तो राजनीति हो।महिलाएं हर खेल में बढ़ चढ़ के हिस्सा लेती है और जीत हासिल कर के हमारे देश का नाम रौशन करती है जिनमे कुछ नाम ‘मेरी कोम’,’गोल्डन गर्ल हिमा दास दस’,’हमारीभारतीय महिला राष्ट्रीय क्रिकेट टीम’ और भी कई दिग्गज महिला खिलाड़ी हमारे देश में है जीकी विजय गाथा सुन के छोटे छोटे बच्चे प्रेरणा लेते है।पूरे वीस्व में सबसे अधिक महिला पायलट हमारे भारत देश में है।

अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन यानी 8 मार्च को UN हर साल अलग अलग थीम पे कैंपेन चलाता है जिसमे लोकल NGO बढ़ चढ़ कर सहयोग करते है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button